Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

सदर कोतवाली में भाजपा नेता बैठे धरने पर ,घर में घुसकर मारपीट के आरोपी को छोडे जाने से भाजपा नेता हुए थे नाराज



सदर कोतवाली में भाजपा नेता बैठे धरने पर ,घर में घुसकर मारपीट के आरोपी को छोडे जाने से भाजपा नेता हुए थे नाराज

कोतवाली में धरना प्रदर्शन कर पुलिस प्राासन मुर्दाबाद के लगाये नारे, सदर कोतवाली पुलिस पर रूपये लेकर छोडे जाने का लगाया आरोप

कासगंज। जनपद की सदर कोतवाली में भाजपा नेता धरने पर बैठ गये। जहां उन्होंने पुलिस द्वारा मारपीट के आरोप को छोडे जाने को लेकर पुलिस प्राासन मुर्दाबाद के नारे लगाये। दरअसल ये कासगंज कोतवाली मै बैठकर पुलिस प्राासन मुर्दाबाद के नारे लगा रहे ये सत्ताधारी पार्टी के भाजपा नेता है। धरने को नेतृत्व कर रहे भाजपा जिला उपाध्यक्ष सुरेश माहेश्वरी की माने तो 14 दिसंबर को मुकेश यादव, कुनाल यादव, सुदेश, शिव्वू सिंह हाथों में लाठी डंडा और तमंचा लेकर यतेन्द्र गौतम के घर में घुस गये और यतेंद्र के पिता राकेश और उनके चाचा निवासी अहीर पाडा ,मोहल्ला जय जयराम घर में घुस आये और उन्होंने जमकर मारपीट और लूटपाट की। बाद में तमंचा से फायरिंग कर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गये। आरोप है कि कासगंज पुलिस ने मुकेश यादव को तमंचा सहित गिरफ्तार कर लिया और उसे दो तीन दिन कोतवाली की हवालात में बंद कर छोड दिया। उनका यह भी कहना था कि पुलिस ने पुलिस पैसा लेकर आरोपित युवक के खिलाफ कम धारा लगाकर छोड दिया और न ही कोई उचित कार्रवाई की। उन्होंने कहाकि पुलिस वाले सपा की मानसिकता से काम कर रहे है। इनके रग रग में जातिवाद भरा हुआ है। उन्होंने कहाकि कार्यकर्ता के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। बाद में धरने की सूचना पर पहुंचे सदर सीओ आरके तिवारी ने लोगों को समझा बुझाकर और कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर भाजपाई धरने से उठने को राजी हुए।