Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

पुलिस लाईन में विशेष किशोर पुलिस इकाई की बैठक का किया गया आयोजन




मेरठ। पुलिस लाइन मेरठ स्थित सभागार में विशेष किशोर पुलिस इकाई मेरठ की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता क्षेत्राधिकारी रूपाली रॉय द्वारा की गई। बैठक में चाइल्ड लाइन की निर्देशिका व बाल कल्याण समिति मेरठ की सदस्य श्रीमती अनिता राणा व चाइल्ड लाइन की समस्त टीम, यूनिसेफ के मंडल प्रभारी श्री गुरमुख सिंह लंबा, श्रम विभाग के अधिकारी गण, थाना ए0एच0टी 0यू मेरठ के प्रभारी श्री बृजेश कुमार शर्मा उप निरीक्षक श्रीमती लतेश वर्मा, किशोर न्याय बोर्ड की सदस्य श्रीमती मालिनी दिवेदी एवं ओम प्रकाश शर्मा, व मेरठ जनपद के थानों के बाल कल्याण पुलिस अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में बाल अपराध को रोकने व बाल संरक्षण में पुलिस द्वारा किस प्रकार अपना सहयोग किया जाए विषय पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। बैठक को संबोधित करते हुए क्षेत्राधिकारी रूपाली रॉय द्वारा कहां गया कि बालकों के प्रत्येक मामले में हमें संवेदनशीलता बरतते हुए त्वरित कार्रवाई करनी चाइए और गुमशुदा बालकों की सूचना चाइल्ड लाइन व बाल कल्याण समिति को अवश्य देनी चाहिए। 



बैठक में चाइल्ड लाइन 1098 निर्देशिका श्रीमती अनीता राणा द्वारा चाइल्ड द्वारा किए जा रहे कार्यों के विषय में जानकारी दी गई उन्होंने कहा कि हम समाज की जागरूक वे जिम्मेदारी इकाई के रूप में नियुक्त हैं इसलिए प्रत्येक बालक की सुरक्षा व संरक्षण सुनिश्चित करना हमारा दायित्व है जिसके लिए हम सबको मिलकर कार्य करना है, श्रीमती अनीता राणा बाल श्रम की सूचना पेंसिल पोर्टल पर अपलोड करने के लिए कहा गया और कहा गया कि हमें बाल श्रम, बाल विवाह व भिक्षावृत्ति की पूर्ण रोकथाम हेतु समय-समय पर जागरूकता अभियान चलाया जाना चाहिए जिससे प्रत्येक व्यक्ति उपरोक्त विषय पर जागरूक होकर सभ्य समाज के निर्माण में अपना सहयोग कर सकें। यूनिसेफ के मंडल प्रभारी श्री गुरमुख सिंह लांबा द्वारा ट्रैक द मिसिंग पोर्टल के विषय में बताया गया और कहा गया कि हमें प्रत्येक गुमशुदा बालक की सूचना ट्रैक द मिसिंग पर दी जानी चाहिए और यदि किसी बालक के विषय में कोई जानकारी नहीं मिल पाती है बालक की सूचना थाना ए0एच 0टी0 यू 0 व बाल कल्याण समिति को आवश्यक रूप से दी जानी चाहिए। थाना ए 0एच 0टी 0यू0 के प्रभारी श्री बृजेश कुमार शर्मा द्वारा बैठक मैं आने वाले प्रत्येक व्यक्ति का धन्यवाद दिया गया और भविष्य में बाल अपराध एवं बाल संरक्षण के क्षेत्र में सहयोग करने के लिए सभी से आश्वासन लिया गया।