Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

जिले में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष का पत्रकारों ने किया बहिष्कार, एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन




जिले में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष का पत्रकारों ने किया बहिष्कार,

कासगंज के बाराह पत्थर मेंदान में किसान महापंचायत को संबोधन करने आये थे अखिलेश यादव,

काली पटटी बांधकर तीन दर्जन से अधिक पत्रकारो ने किया विरोध,

गत दिनो मुरादाबाद में आयोजित हुई महापंचायत में पत्रकारों को हुई थी पिटाई,

एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर उठाई 

कासगंज। गत दिनो सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की किसान महापंचायत मुरादाबाद में पत्रकारों के साथ हुई मारपीट के विरोध के स्वर कासगंज में आयोजित हुई किसान महापंचायत में देखने को मिले।जहां पत्रकारों ने काली पटटी बांधकर जमकर विरोध जताया। साथ ही जिला प्राासन के माध्यम से योगी सरकार को ज्ञापन भेजकर मारपीट के करने वाले अखिलेश के बाउंसरो के खिलाफ कडी से कडी कार्रवाई की मांग की।

काली पटटी बांधकर यह विरोध प्रदर्शन ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष संजीव कुमार उर्फ बौबी ठाकुर और उपजा एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष की देखरेख में तीन दर्जनो से अधिक पत्रकारों ने विरोध जताया और जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाये। विरोध प्रदर्शन कारी पत्रकार शिव प्रताप सोलंकी ने बताया कि गत दिनो सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव की मौजूदगी में सवाल पूछने को लेकर उनके बाउंसरों ने पहले धक्का मुक्की और उनके साथ मारपीट कर दी। इस घटना में कई पत्रकार साथी घायल हो गये।जब इस मामले का पत्रकारों ने अखिलेश से शिकायत की तो उन्होंने भी पत्रकारों को बेतुका बयान दे दिया। जिससे लोकतंत्र के चैथे स्तंभ को खासी आहत पहुंची और उन्होंने कासगंज जिले में अखिलेश की किसान महापंचायत के दौरान काली पटटी बांधकर विरोध जताया। उनका कहना था कि जब तक अखिलेश यादव पत्रकार जगत से माफी नहीं मांगेगे तब तक पत्रकारो का आंदोलन जारी रहेगा।