Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

इस तरह से मनाया गया हजरत मखदूम अली शाह का उर्स मुबारक जुम्मेरात




 जौनपुर। हजरत मखदूम अली शाह का उर्स मुबारक जुम्मेरात की रात को बड़े ही धूमधाम व अकीदत के साथ मनाया गया। मोहल्ला मीरमस्त स्थित मदीना मस्जिद के निकट बाबा की मजार पर बड़ी संख्या में अकीदतमंद लोगों ने चादरपोशी की और मुल्क की तरक्की, अमन चैन व दुनिया से कोरोना महामारी के खात्मे के लिये दुआ मांगी। उर्स में सभी धर्म के लोगों ने हिस्सा लिया। उर्स का शुभारंभ सुबह 7 बजे कुरान खानी से हुआ। बाद नमाज असर जलसा सीरत उन नबी का आयोजन किया गया। इस मौके पर मौलाना कयामुद्दीन, मौलाना शरीफ उलहक ने कहा कि मखदूम अली शाह बाबा के दरबार में जब भी कोई आता है तो खाली हाथ नहीं जाता। वे सबकी भलाई के लिये दुआ देते थे। मौलाना शमसुद्दीन, हसीन मीरमस्ती, अरमान मंसूरी, अयान, अदनान ने नाते नबी का नजराना पेश किया। नारे तकबीर अल्लाह हो अकबर की सदाए गूंजती रही। इस मौके पर शकील मंसूरी, सूफिआन मंसूरी, गुड्डु, वाहिद, अशफाक मंसूरी, इरफान अंसारी, फैजान आदि मौजूद रहे। बाद जलसा लोगो में तबर्रूक वितरित किया गया। मरकजी सीरत कमेटी के नायब सदर शकील मंसूरी ने शुक्रिया अदा किया।