Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

निर्दोष युवकों को जेल भेजकर खुद अपनी पीठ थपथपाने में मस्त पुलिस, आठ माह पूर्व दिनदहाड़े हुई थी युवक की हत्या




पलियाकलां खीरी-:बड़े बड़े दावे और फर्जी मामले बनाकर एनडीपीएस में निर्दोष युवकों को जेल भेजकर खुद अपनी पीठ थपथपाने में मस्त पलिया पुलिस आठ माह पूर्व दिनदहाड़े हुई युवक की हत्या का आज तक खुलासा करना तो दूर उनका सुराग तक नहीं लगा पायी है।इससे पुलिस की कारगुजारी पर सवालिया निशान लगना स्वाभाविक है।बताते चलें थाना क्षेत्र के बिजौरिया फार्म निवासी गुरतेज सिंह उर्फ रेंगन 35 पुत्र स्वर्गीय मक्खन सिंह की 5 अगस्त 2020 को दोपहर लगभग 2.30 बजे पतवारा धूसर मार्ग के बीच हरीराम के बाग के पास अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।जब वह अपनी बहन रमनदीप कौर को भीरा कस्बे में छोड़कर बाइक से वापस आ रहा था।घटना को अंजाम देकर डार्क ब्लू रंग की कार में सवार अज्ञात हत्यारे पतवारा गांव होते हुए फरार हो गए थे। मृतक के पत्नी व 2 वर्ष का एक बेटा और 1 वर्ष की बेटी है।उसके भाई सुखराज सिंह ने उसी दिन अज्ञात हत्यारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी।सबसे आश्चर्य की बात यह है आठ माह बाद भी पुलिस कुछ भी पता नहीं लगा पायी है।जबकि घटना के बाद से उसका परिवार हर दिन दहशत के साये में जी रहा है। प्रशासन की ओर से कोई सुरक्षात्मक उपाय भी नहीं किए गए हैं।घटना के समय पलिया सर्किल के सीओ कुलदीप कुकरेती थे। उसके बाद सीओ संजय नाथ तिवारी और अब तीसरे सीओ राजेश कुमार तैनात हैं।वहीं कोतवाल भी नये आ चुके हैं।इसके बाद भी उक्त मामले में कोई कार्रवाई होगी।यह भविष्य के गर्भ में है।