Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कुशीनगर :हिन्दू से मुस्लिम बने ईशा नट के शव को कब्रिस्तान में नो एंट्री, फिर.....


कुशीनगर के खडडा से बाबा की रिपोर्ट.... 

कुशीनगर/खड्डा :दस वर्ष पहले धर्म बदलकर मुस्लिम बने ईशा नट के शव को कब्रिस्तान में दफन करने पर हुआ विरोध, पुलिस हस्तक्षेप से दो गज जमीन नसीब हुई ।

ईशा के पुत्र व पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक खडडा थाना क्षेत्र के धनौजी आबादकारी गाँव में नट समुदाय के लोग निवास करते हैं ,दस वर्ष पहले तक ईशा पुत्र डाढू हिन्दू थे ,इन्होंने परिवार सहित इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिए ।सभी धार्मिक कार्य मुस्लिम रिति रिवाज से करते रहे ,अचानक 6माह पहले ईशा की पत्नी की मौत हो गयी तो शव को इस्लामी रिति रिवाज से कब्रिस्तान में दफनाने ले गये तो मुस्लिम समुदाय के लोग विरोध करते हुए कब्रिस्तान में शव दफनाने से मना कर दिए ,इसके बाद बडे धर्मगुरु ने हस्तक्षेप किया तब शव दफन हो पाया । ईसा के पुत्र मोहित ने बताया की सोमवार को तबियत ख़राब हुई तो तुर्कहा सीएचसी ले गये ,कुछ देर बाद डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया ।मोहित शव को दफनाने के लिए कब्रिस्तान लेकर पहुचा तो पुनः कब्रिस्तान में दफनाने का विरोध शुरू हो गया । गांव के मुस्लिम समुदाय के लोग नट समुदाय के होने के कारण शव अन्यत्र ले जाने को कहा ।मोहित ने बताया की उसने इस्लाम स्वीकार किया है तो उसके अनुसार ही अंतिम संस्कार करूँगा । मामला बढा तो मोहित ने पुलिस को सूचना दी ।वरिष्ठ उपनिरीक्षक पीके सिंह फोर्स के साथ पहुँच लोगों से बातचीत कर शव को दफन करवाया । हिन्दू धर्म में आस्था रखने वाले नट समुदाय के क इ परिवार अब इस्लाम धर्म में आस्था रखते हैं।