Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

शारीरिक भूख मिटाने के लिए पत्नी ने प्रेमी के साथ मिल पति की गला रेत कर दी हत्या




कुशीनगर के खडडा से बाबा की रिपोर्ट ।।

प्यार में पागल तीन बच्चों की मां ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की धारदार हथियार से गला रेत व गोदकर कर निर्मम हत्या कर दी ।पुलिस पतिहन्ता पत्नी व सगे भांजे को गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाई कर रही है।पति पत्नी मामा भांजे के पवित्र रिश्ते को शर्मसार करने वाली इस घटना के वावत मिली जानकारी के मुताबिक पडरौना कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रामधामजंगल विशुनपुरा निवासी नन्दू उर्फ सुग्गा गुप्ता की शादी दस वर्ष पहले जटहा बाजार क्षेत्र में ज्योति से हुआ था ,दोनो से तीन बच्चे हैं ।लगभग दो वर्ष पहले मृतक के भान्जे बलिराम से ज्योति (रिश्ते मे मामी) की नजदीकी बढी और दोनो चुपके चुपके मर्यादा की हद पार कर जिस्मानी रिश्ता कायम कर लिए । कहते हैं इस तरह की बाते ज्यादा समय तक छुपती नहीं है । पत्नी ज्योति व भान्जे बलिराम के बीच के अवैध संबंध की जानकारी होने पर नंदू विरोध करने लगा ,अवैध संबंध में पागल ज्योति कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थी। पति पत्नी मे झगड़ा होने लगा रामनवमी को ज्योति बच्चों के साथ मायके चली आयी । बच्चों व परिवार टूटने से बचाने के लिए नन्दू ने झुकते हुए पुर्व की बातो को भूल ज्योति को बुलाने रविवार को जटहा अपने ससुराल पहुंचा । ससुराल में नन्दू का खूब आवभगत हुआ वह सोमवार को भी रूक गया। लेकिन ज्योति के मन मे तो खतरनाक मंसूबा पल रहा था ,।पुलिस को दिए बयान में ज्योति ने बताया की पति को घुमने के बहाने सोमवार देर शाम सरेह के तरफ ले गयी ,आने वाले मंजर से अंजान नन्दू जैसे ही केले की खेत में गया ,तभी घात लगाए बलिराम ने बकुआ से हमला कर दिया ,घायल होकर गिर पड़े नन्दू का गला बलिराम व ज्योति ने बेरहमी से रेत दिया ,क्रूरता की हद पार करते हुए नन्दू के शरीर पर ताबड़तोड़ वार किया ।अपने ही पत्नी व भांजे से जान बचाने के लिए संघर्ष करते समय ज्योति के हाथ में भी जख्म हो गया था। हत्या के बाद ज्योति घर पहुँच झूठी कहानी गढते हुए अज्ञात हमलावरों द्वारा हत्या करने की बात करने लगी ,सूचना पाकर जटहा पुलिस पहुँच गयी ,इसी बीच हत्यारे वलिराम को ग्रामीणों ने खेत से पकड़ लिया और पुलिस को सौप दिया । पुलिस ने जब पूछताछ किया तो रिश्ते को शर्मसार करने वाली दास्तान सामने आ गयी । पुलिस ने हत्यारे मामी व भान्जे को हत्या के धारा में गिरफ्तार कर लिया है। 

अपने हाथ ही ज्योति ने पोछ डाली अपने मांग की सिन्दूर। शारीरिक जरूरत पूरा करने के लिए बहशी बन गये मामी ,भान्जे 

इन दोनो के किए की सजा तो कानून देगा परंतु इस वारदान ने पति पत्नी व मामा भांजे जैसे पवित्र रिश्ते को कलंकित कर दिया है। लोग हैरान हैं कि शारीरिक भूख मिटाने के लिए ज्योति ने अपने हाथो अपने ही सुहाग को उजाड़ दिया । अग्नि के समक्ष सात जन्म साथ निभाने का वादा भूल गयी ज्योति । तीन बच्चे भी हो गये अनाथ । अपने हाथो अपने ही पति पर वार करते समय एक बार भी हाथ नहीं कांपे । लोग इस हृदय विदारक घटना से भौचक्का है। 

क्या बोले थानाध्यक्ष जटहा 

थानाध्यक्ष नंदा प्रसाद ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मृतक के भाई फूलबदन की तहरीर पर हत्या समेत अन्य मामलों में केस दर्ज कर लिया गया है। इसमें शामिल आरोपियों मृतक की पत्नी व भान्जे को गिरफ्तार कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। हत्या मामी-भांजे के अवैध संबंध के चलते हुइ है।