Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

पीड़िता की शिकायत पर थानाध्यक्ष ने थाने में ही लड़का बुलाकर कराई शादी


चकरनगर (इटावा) । स्थानीय थाना क्षेत्र के राजपुर गांव निवासी आरती देवी पुत्री स्वर्गीय जगराम दोहरे ने थाना पुलिस के समक्ष प्रार्थना पत्र देते हुए कहा कि, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजपुर में तैनात आयुष फार्मासिस्ट धीरेंद्र सिंह पिछले 6 वर्षों से मुझसे शादी करने का झूठा वादा कर रहा था। जिसने अब मुझसे शादी करने से ही मना कर दिया है। पीड़िता की शिकायत पर थाना पुलिस ने उक्त मामले की गहनता से पड़ताल कर उक्त स्वास्थ्य कर्मी को हिरासत में ले लिया कानून के खौफ से स्वास्थ्य कर्मी ने एक हफ्ते की चली खींचतान के बाद पुलिस के समक्ष पीड़ित युवती से शादी रचाने की हामी भर दी जिस पर पुलिस ने पीड़िता की सहमति से लड़के व युवती की मां को बुलाकर दौनो की शादी कराई। थाना परिसर में ही स्थित बजरंगबली मंदिर के सामने दोनों को ईश्वर को साक्षी मानकर एक दूसरे को वर माला पहनाकर जीवनसाथी मान लेने की शपथ दिलाई। इस शादी के साक्षी मां बाप के अलावा थानाध्यक्ष चकरनगर व समस्त स्टाफ बना। पुलिस द्वारा किए गए इस सराहनीय कार्य से एक बेटी की जिंदगी बर्बाद होने से बच गई जिसकी क्षेत्र में लोग प्रशंसा कर रहे है। लड़के के पिता दयाशंकर निवासी नवाब का पुरवा थाना रूरा जनपद कानपुर देहात ने बताया कि हमें उक्त शादी से किसी प्रकार का भी विरोध नहीं है जब दोनों एक दूसरे को इतने समय से जानते थे तो पहले से इन दोनों को शादी कर लेनी चाहिए थी। हम लोगों को इसकी कोई जानकारी नहीं थी विवाद होने पर घटना सामने आई और हम लोगों ने अपने लड़के को समझाया और लड़की के परिवार से बात कर पुलिस के समक्ष शादी का प्रस्ताव कर शादी संपन्न करवाई गई है। जिसे आगे कानूनी व सामाजिक रूप भी दिया जाएगा


थानाध्यक्ष चकरनगर राजेश सिंह चौहान ने बताया कि दोनों में सुलहनामा शादी को लेकर हो गया है मंदिर में माला डालकर रस्म अदायगी की गई है जिसमें दोनों के ही परिजन मौके पर उपस्थित भी रहे।