Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

लाला लाजपत राय की 92वीं पुण्यतिथि पर महानगर कांग्रेस कमेटी ने दी श्रृद्धांजलि


ब्यूरो कार्यालय (कानपुर):कानपुर महानगर कांग्रेस कमेटी एवं लाला लाजपत राय विकास समिति के संयुक्त संयोजन में के भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी महानायक पंजाब केसरी लाला लाजपत राय की 92 वीं पुण्यतिथि पर शहर कांग्रेस कमेटी की तरफ से लाजपत नगर स्थित प्रतिमा को दूध व गंगाजल से नहला कर माल्यार्पण किया गया।


 पुष्पांजलि सभा में वक्ताओं ने कहा कि लाला जी महान देशभक्त, स्वाभिमानी और व्यक्तित्व के धनी महापुरुष थे। लाला जी का जन्म पंजाब के एक छोटे से गांव में राष्ट्रभक्त परिवार मे हुआ था। पेशे से वकील लाला लाजपत राय ने आर्य समाज से जुडकर शिक्षा के क्षेत्र में सक्रिय भूमिका निभाई और कांग्रेस मे शामिल होकर स्वतंत्रता के आन्दोलन मे कूद गये।


     लाला जी ने महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अरविन्द घोष के सानिध्य मे कठोर जेल यातनाए सही और बालगंगाधर तिलक व विपिन चन्द्र पाल जैसे जुझारु नेताओ के साथ मिलकर गोपाल कृष्ण गोखले द्वारा प्रतिपादित उग्र आन्दोलन की मुहिम मे शामिल हो गए।


 


        गोष्ठी में कहा गया कि सन् 1907 मे रावल पिण्डी मे उथल-पुथल मचाने के आरोप मे गिरफ्तार होने पर लगभग 6 माह तक कारागार मे बन्द रहे। इतना ही नही लाला जी ने जलिया वाला बाग मे हुए नरसंहार के विरोध मे असहयोग आन्दोलन का नेतृत्व कर गिरफ्तारी भी दी। 


    सन् 1928 मे ब्रिटिश सरकार के साइमन कमीशन के खिलाफ आन्दोलनात्मक रुख अपनाने पर उनके द्वारा निकाले गये शान्ति जुलूस का नेतृत्व करने पर उन पर बर्रबरतापूर्वक लाठी चार्ज किया गया। जिसमे उनके सिर पर गम्भीर चोटे आईं और 17 नवम्बर 1928 को उनकी मृत्यु हो गई। लाला लाजपत राय के देश के प्रति अगाध प्रेम व त्याग तपस्या को भुलाया नही जा सकता। 


      कार्यक्रम का संयोजन व संचालन महानगर कांग्रेस कमेटी के महासचिव दीपक धवन ने किया।


        इस अवसर पर पूर्व विधायक भूधर नारायन मिश्र, शंकर दत्त मिश्र,अशोक धानविक, निजामुद्दीन खां, अंबुज शुक्ला, कमल शुक्ला बेबी, कृष्णकांत अवस्थी, राकेश साहू, प्रभात मिश्रा, राजकुमार पाल, अंबरीश सक्सेना, डॉ ओ पी श्रीवास्तव, जितेन्द्र पांडे, राकेश यादव, महेंद्र मिश्रा, संदीप चौधरी आदि ने गोष्ठी में विचार व्यक्त किए और पुष्पांजलि अर्पित की।