Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

दूसरे दिन भी आशाओं ने सीएचसी में दिया धरना, किया प्रदर्शन, आशाओं व एएनम के धरना प्रदर्शन में होने के चलते टीकाकरण का कार्य रहा बाधित



 दूसरे दिन भी आशाओं ने सीएचसी में दिया धरना, किया प्रदर्शन

आशाओं व एएनम के धरना प्रदर्शन में होने के चलते टीकाकरण का कार्य रहा बाधित

 पलिया सीएचसी में आशाओं के धरना प्रदर्शन की सूचना पर एडिशनल सीएमओ आरके दीक्षित सीएचसी पहुंचे और उनकी समस्याओं को सुना

02 गुरुवार को दूसरे दिन भी आशा और एएनम सीएचसी के मुख्य गेट पर धरने पर बैठी रही

पलियाकलां-खीरी:गुरुवार को भी सीएचसी में आशाओं व एएनमों ने कार्य बहिष्कार करते हुए धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के चलते गुरुवार को टीकाकरण कार्य बाधित रहा। धरना प्रदर्शन की सूचना पर जिले से पहुंचे एडिशनल सीएमओ ने उन्हें बीसीपीएम को जिले पर अटैच करने का आश्वासन देते हुए काम पर लौटने की बात कही। लेकिन आशाओं का कहना था कि जब तक उन्हें लिखित रूप से उनके स्थानांतरण का पत्र नहीं मिल जाता वह अपना धरना प्रदर्शन समाप्त नहीं करेंगीं।

बता दें कि बुधवार सीएचसी में तैनात बीसीपीएम रानी पांडेय पर अभद्र भाषा व रिपोर्ट लगाए जाने के नाम पर सुविधा शुल्क मांगे जाने से आक्रोशित आशाओं ने एएनम के साथ विरोध प्रदर्शन करते हुए सीएचसी में हंगामा शुरू कर दिया था। समस्या का समाधान ना होने पर आक्रोशित आशाएं तहसील में जा पहुंचीं थी और प्रदर्शन करते हुए एसडीएम डा. अमरेश कुमार व तहसीलदार आशीष कुमार सिंह से मुलाकात करते हुए आरोपी बीसीपीएम पर कार्रवाई की मांग की थी। कार्रवाई ना होने 

से नाराज सभी आशाएं व एएनम गुरुवार की सुबह फिर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मुख्य गेट पर धरने पर बैठ गईं। आशा व एएनम के धरना प्रदर्शन में बैठने के चलते गुरुवार को टीकाकरण का कार्य भी बाधित रहा। आशा और एएनम के धरना प्रदर्शन की सूचना पर गुरुवार की दोपहर जिले से एडिशनल सीएमओ आरके दीक्षित पलिया सीएचसी में पहुंचे और उनकी समस्या सुनी। इस दौरान सभी ने एडिशनल सीएमओ को ज्ञापन देते हुए बीसीपीएम रानी पांडे के स्थानांतरण की मांग की। इस पर एडिशनल सीएमओ ने धरना प्रदर्शन पर बैठीं आशा व एएनम को बीसीपीएम रानी पांडे को जिला ऑफिस पर अटैच करने का आश्वासन देते हुए धरना प्रदर्शन समाप्त करने की बात कही। लेकिन प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जब तक उन्हें लिखित रूप से बीसीपीएम के स्थानांतरण का पत्र नहीं मिल जाता तब तक वह धरना प्रदर्शन समाप्त नहीं करेंगी और ना ही काम पर लौटेंगे। खबर लिखे जाने तक आशा व एएनम का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर धरना प्रदर्शन जारी था। उधर आशाओं की शिकायत पर एडिशनल सीएमओ ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक की जांच के लिए भी टीम गठित कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उधर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में तैनात बीसीपीएम रानी पांडे ने बताया कि आशाएं साजिश के तहत उनके विरुद्ध धरना प्रदर्शन कर रहीं है। अभी उन्हें ड्यूटी संभाले हुए मात्र दो महीने हुए हैं। कुछ आशाएं अपना काम सही से नहीं कर रही थीं और जब उन्हें इस बाबत निर्देशित किया गया तो वह आरोप लगाने लगीं। उनका कहना था कि उन्हें हटाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने अपने ऊपर लगाए गए सारे आरोपों को गलत व निराधार होना करार दिया।