Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

मुख्य विकास अधिकारी ने खेतों पर जाकर जैविक खेती का किया निरीक्षण, कहा जैविक खेती से मिलेगा जहर मुक्त आहार और निरोग व स्वस्थ जीवन

 


कासगंज। मुख्य विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र ने विकास खण्ड सोरों के ग्राम हुसैनपुर मौजमपुर का भ्रमण करते हुये जैविक खेती कर रहे किसानों से वार्ता की और उनके द्वारा खेती के लिये अपनाये जा रहे तरीकों को जाना। खेत पर जाकर ब्रोकली और गोभी के खेतों का स्वयं निरीक्षण किया तथा इस परियोजना के अंतर्गत किसानों द्वारा उच्च गुणवत्ता की ब्रोकली उत्पादन की सराहना की। निर्देश दिये कि जनपद में जैविक खेती की मार्केटिंग की उचित व्यवस्था की जाये। आवश्यकतानुसार उत्पादन को बाहर भेजने में भी किसानों की सहायता की जाये। जिला परियोजना समन्वयक डा0 संजीव शुक्ला ने बताया कि नमामि गंगे योजना में गंगा के किनारे 34 चयनित ग्रामों में किसानों के 85 समूह गठित करते हुये उन्हें जैविक खेती के लिये प्रोत्साहित किया जा रहा है। दिन प्रतिदिन बढ़ते प्रदूाण तथा कैमीकल के बढ़ते इस्तेमाल से हमारा शरीर बीमारियों का घर बनता जा रहा है। कैमीकल युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से होने वाले दुप्रभाव के कारण आजकल त्वचा की बीमारियां, एसिडिटी, छोटी उम्र में बाल सफेद होना तथा कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां बढ़ती जा रही हैं। इन्हीं बातों को संज्ञान में लेकर केन्द्र सरकार के सहयोग से उ0प्र0 कृाि विविधीकरण परियोजना के अंतर्गत नमामे गंगे प्रोजेक्ट का संचालन किया जा रहा है। जिसमें गंगा तट के किनारे स्थित ग्रामों में कृाकों के समूह बनाते हुये रसायनिक उर्वरक, पेस्टिसाइड से मुक्त जैविक कृाि पद्यति अपनाकर जीवन को स्वस्थ और रोगमुक्त बनाया जा सके। इस अवसर पर प्रतिनिधि सिमफेड अखिलेश कुमार, जिला प्रभारी राजीव कुमार दीक्षित, अनुराग मिश्रा एवं किसान उपस्थित रहे।